केरल में हथिनी की मौ’त पर अफसोस जताने वाली स्मृति ईरानी द’लित बेटी के रै’प पर चुप क्यो: पत्रकार


देश में भाजपा सरकार ‘महिला सुरक्षा’ के नाम पर सिर्फ वोट मांगने का काम करती है। देश में महिलाओं के साथ रे’प और ह’त्या की घट’नाएं थमने का नाम नहीं ले रही।

राजधानी दिल्ली के कैंट एरिया में 9 साल की द’लित बच्ची के साथ गैंग’रेप के बाद ह’त्या को अं’जाम दिया गया है।

इस मामले में मंदिर के पुजारी समेत चार लोगों को गैंग’रेप, ह’त्या, पॉक्सो, एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया जा चुका है। इस मामले में महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी का चुप्पी साधे हुए है।

आपको बताते चले इस घ’टना पर अब तक केंद्र  सरकार के किसी भी मंत्री ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। पीएम नरेंद्र मोदी ने पी’ड़ित परिवार को सांत्वना भी नहीं दी है।जिसे देखते हुए इस मुद्दे पर द’लित नेताओं की कड़ी प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही है।

भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कल पी’ड़ित परिवार से मुलाकात कर कहा कि लोग हाथरस घ’टना से तो बाहर निकले नही की दिल्ली में ऐसी दरिं’दगी देखने को मिली है।

और अब सामाजिक कार्यकर्ता दिलीप मंडल ने भी इसपर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और भाजपा को घेरा है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि ‘9 साल की लड़की मा’र दी गई है दिल्ली में। परिवार को बताए बग़ैर ला’श को फूंक दिया गया। आपके ऑफिस से दूर नहीं है।

हथिनी के मरने पर अफ़सोस करना पूरा हो गया है तो दिल्ली छावनी हो आइए। आपके पास तो महिला और बाल विकास का मंत्रालय भी है। कुछ तो काम कर लो।’

इस ट्वीट में दिलीप मंडल ने एक खबर भी शेयर की है। जिसमें केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा केरल में गर्भ’वती हथिनी की मौ’त पर दु:ख जा’हिर किया गया था।

सामाजिक कार्यकर्ता दिलीप मंडल का कहना है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी आदमी की मौ’त पर दुख जाहिर कर सकती है। लेकिन 9 साल की बढ़ी के साथ गैंग’रेप कर ह’त्या कर दी जाती है। इस घट’ना पर एक शब्द क्यों नहीं बोल सकती।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*